गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिला तो 16 वर्षीय लड़की ने की आत्महत्या

गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिला तो 16 वर्षीय लड़की ने की आत्महत्या

मुंबई (महाराष्ट्र) वर्तमान में मोबाइल एक आवश्यकता पूर्ण वस्तु बन गई है लेकिन हद से ज्यादा उपयोग करना स्वास्थ्य और मानसिक विकास के लिए घातक साबित हो सकता है ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के मुंबई से सामने आया है जहां मोबाइल पर गेम खेलने वाली एक 16 वर्षीय लड़की ने आत्महत्या कर ली
प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला कंदीवाली पूर्व समता नगर पुलिस स्टेशन क्षेत्र के जानू पाढा कंपाउंड का है जहां एक 16 वर्षीय छात्रा को गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिला तो उसने रैटोल खाकर आत्महत्या कर ली युवती की मौत के बाद परिवार के सभी लोग सदमे में हैप्राप्त जानकारी के अनुसार घटना करीब रात 11:30 बजे की है जब लड़की ने अपने छोटे भाई से गेम खेलने के लिए मोबाइल मांगा तो उसके मना करने पर दोनों का आपस में झगड़ा हो गया जिसे लेकर लड़की ने पास के ही मेडिकल स्टोर से चूहे मारने की रैटोल नामक दवा लेकर घर आई और छोटे भाई के सामने पीली जिस पर छोटे भाई ने अपने परिवार को इसकी जानकारी दी तो वे उसे तुरंत शताब्दी हॉस्पिटल में लेकर पहुंचे जहां उपचार के दौरान शनिवार सुबह करीब 10:00 बजे लड़की ने दम तोड़ दिया समता नगर पुलिस स्टेशन के पीएसआई संतोष खरडे ने मौके पर पहुंचकर पूछताछ की और लड़की के शव को पोस्टमार्टम करा कर परिवारजनो को सौप दिया