नहीं सुधरी पानी की व्यवस्था: ग्रामीण हैड पंप व टैंकरों से पानी पीने को हो रहे मजबूर

नहीं सुधरी पानी की व्यवस्था: ग्रामीण हैड पंप व टैंकरों से पानी पीने को हो रहे मजबूर

उदयपुरवाटी (झुंझुनू, राजस्थान/ सुमेरसिंह राव) पचलंगी में जल जीवन मिशन योजना के तहत नए टयूबवैल लगाने टंकी तक पाइप लाईन बिछाने के बाद भी पेयजल समस्या का सुधार नहीं हुआ। ग्रामीणों को हैंडपंप व टैंकरों से पानी पीने को मजबूर हो रहे है। ग्रामीण हीरालाल सैनी ने बताया कि पचलगी गांव में फाउंडेशन पचलगी संस्था की ओर से गर्मी मौसम के लिए 10-15 टैंकर पानी के फ्री सेवा दे रहे हैं। जो अभी तक जारी है।जो गांव के मोहल्ले में दो टैंकरों से सप्लाई दी जाती है। ग्रामीण अशोक दास स्वामी ने बताया कि पचरंगी में जो सरकारी पानी के टैंकर चल रहे थे वह भी जलदाय विभाग ने बंद कर दिए जिससे पानी का संकट और बढ़ गया।

गांव में तीन हैंड पंप चालू है जिसमे एक तो मुख्य बस स्टैंड पर, मातेश्वरी कॉलोनी व सिरोही रोड जांगिड़ बस्ती के पास चल रहे है। उस पर सुबह शाम मीठे पानी पीने के लिए मटके, बालटी भरने की भीड़ लगी रहती है। सुरेश शर्मा, शिबुदयाल, शंकरलाल आदि ने बताया कि यह हैड पंप 40 वर्ष पुराने समय से चालू है। इसकी गहराई भी मात्र डेढ़ सौ या 200 फुट के लगभग है ।इन का पानी मीठा होने से दिन भर लोगों की भीड़ लगी रहती है। यह हैड पंप लगभग 500 की आबादी में बसे लोगों को पानी की सप्लाई दे रहे हैं। पचलंगी में पिछले दिनों जल मिशन योजना के तहत तीजा वाले जोहड़ी में नए टयूबवैल लगाए गए थे। उस की पाइप लाइन का कार्य भी टंकी में जोड़कर पूरा हो गया उसके बाद ही पानी की सप्लाई चालू नहीं की है। पचलंगी के ग्रामीण आज ही पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। फ्री टैंकरों की सप्लाई नहीं होती तो लोगों को पानी के लिए बहुत परेशान होना पड़ता। नए टयूबवैलो को ग्रामीणों ने शीघ्र चालू करवाने की मांग की है।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है